Latest mukhya khabar national

चन्द्रयान-2 से पहले सरकार ने ISRO को दिया बड़ा झटका, परेशानी में कर्मचारी

चन्द्रयान-2

ISRO (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ) जहां चन्द्रयान-2 को सफ़ल बनाने के लिए जी तोड़ मेहनत कर रहा है तो वहीं इस अभियान के सफल होने से पहले भारत सरकार ने संस्था में काम करने वाले कर्मचारियों को बड़ा झटका दिया है। दरअसल, ख़बरों की मानें तो सरकार ने यहां काम करने वाले कर्मचारियों की तनख्वाह में कटौती कर दी है।

केंद्र सरकार ने 12 जून 2019 को जारी एक आदेश में कहा है कि इसरो वैज्ञानिकों और इंजीनियरों को साल 1996 से दो अतिरिक्त वेतन वृद्धि के रूप में मिल रही प्रोत्साहन अनुदान राशि को बंद किया जा रहा है.

एक वेब पोर्टल की ख़बर के अनुसार सरकार ने आदेश में कहा गया है कि 1 जुलाई 2019 से यह प्रोत्साहन राशि बंद हो जाएगी। इस आदेश के बाद D, E, F और G श्रेणी के वैज्ञानिकों को यह प्रोत्साहन राशि अब नहीं मिलेगी।

गौर हो कि, इसरो में करीब 16 हजार वैज्ञानिक और इंजीनियर हैं। लेकिन इस सरकारी आदेश से इसरो के करीब 85 से 90 फीसदी वैज्ञानिकों और इंजीनियरों की तनख्वाह में 8 से 10 हजार रुपए का नुकसान होगा। क्योंकि, ज्यादातर वैज्ञानिक इन्हीं श्रेणियों में आते हैं। जिसे लेकर इसरो वैज्ञानिक नाराज हैं।

बता दें कि वैज्ञानिकों को प्रोत्साहित करने, इसरो की ओर उनका झुकाव बढ़ाने और संस्थान छोड़कर नहीं जाने के लिए वर्ष 1996 में यह प्रोत्साहन राशि शुरू की गई थी।