BJP Latest mukhya khabar national Politics

सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद EC को हुआ अपनी शक्ति का एहसास, हेट स्पीच पर की कार्रवाई

सुप्रीम कोर्ट

लोकसभा चुनाव 2019 के चुनाव प्रचार के दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और पूर्व मुख्यमंत्री योगी और मायावती द्वारा दी गई हेट स्पीच को लेकर चुनाव आयोग सख्त हो गया है। जिसके चलते चुनाव आयोग के मुख्यमंत्री योगी प्रचार करने पर 72 घंटे और बसपा सुप्रीमो पर 48 घंटे की रोक लगा दी है।

मालूम हो कि, इलेक्शन कमीशन ने ये बड़ी कार्रवाई सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद की है। बता दें कि, सुप्रीम कोर्ट ने हेट स्पीच मामले में फटकार लगाते हुए कहा था कि आयोग को अपनी शक्ति के बारे में पता है या नहीं।

सुप्रीम कोर्ट की इसी टिप्पणी को गंभीरता से लेते हुए चुनाव आयोग ने ये बड़ा फैसला लिया है। हालांकि आयोग ने अभी तक आज़म ख़ान पर कोई फैसला नहीं लिया है।

बता दें कि बीते रविवार को रामपुर लोकसभा सीट से सपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे आज़म खान ने बीजेपी प्रत्याशी जया प्रदा को लेकर अभद्र टिप्पणी की थी। जिसके बाद उनकी हर तरफ निंदा हो रही है।

वहीं महिला आयोग की शिकायत पर आज़म के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

फिलहाल, आयोग ने मायावती और मुख्यमंत्री योगी के प्रचार करने पर 16 अप्रैल 6 बजे के बाद प्रचार करने पर बैन लगा दिया है।

चुनाव आयोग ने कहा, “हम नोटिस जारी कर सकते हैं. शिकायत दर्ज कर सकते हैं, लेकिन किसी को भी आयोग्य करार नहीं दे सकते और न ही पार्टी के खिलाफ सीधे तौर पर कोई एक्शन ले सकते हैं। हम केवल आचार संहिता के उल्लंघन पर नोटिस जारी कर सकते हैं।”

चुनाव आयोग की दलील सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग के प्रतिनिधि को मंगलवार को सुबह साढ़े दस बजे कोर्ट में पेश होने के लिए कहा है। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट चुनावी अभियान में हेट स्पीच और सांप्रदायिक बयानबाजी करने पर चुनाव आयोग के अधिकारों का परीक्षण करेगा।

बिहार में उड़ी सुशासन की धज्जियां, पत्रकार के बेटे की आंखें फोड़ की हत्या

कांग्रेस नेता शशि थरुर के सिर में चोट, आये 6 टांके, जाने ऐसा क्या हुआ?