BJP Latest mukhya khabar national Politics

पांच साल में अपनी पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में मोदी ने कुछ यूं की प्रत्रकारों से बात

मोदी

लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के लिए आज प्रचार अभियान थम गया । 19 मई को 17वीं लोकसभा के गठन के लिए अंतिम चरण का मतदान होगा, जिसमें आठ राज्यों की 59 सीटों के प्रत्याशियों की प्रतिष्ठा दाव पर है।

वहीं चुनाव प्रचार थमने के बाद बीजेपी की ओर से एक प्रेस कॉन्फ्रेंस रखी गई जिसमें प्रधानमंत्री मोदी समेत राष्ट्रीय अध्यक्ष मौजूद रहे। हालांकि इस दौरान प्रदानमंत्री मोदी ने पत्रकारों के सवालों के जवाब ये कहते हुए न देने की बात कही कि ये प्रेस कॉन्फ्रेंस राष्ट्रीय अध्यक्ष की है इस लिए मेरा सवालों का जवाब देने पार्टी नियमों के खिलाफ़ होगा।

आपको बता दें, इस दौरान अमित शाह ने दावा किया कि, एक बार फिर से देश में एनडीए गठबंधन की सरकार बनने जा रही है। उन्होंने दावा कि, बीजेपी अकेले अपने दम पर 300 से ज्यादा सीट लेकर आ रही है एनडीए के सभी दलों के साथ मिल कर मोदी सरकार एक बार फिर सत्ता की कुर्सी पर काबिज़ होगी।

शाह ने इस दौरान प्रत्रकारों के विभिन्न सवालों के जवाब भी दिए। साध्वी प्रज्ञा को भोपाल से टिकट दिए जाने पर अमित शाह ने कहा कि उन्हें टिकट दिए जाने का हमें कोई मलाल नहीं है, अमित शाह ने कहा कि उनकी उम्मीदवारी ‘हिन्दू टेरर’ के नाम पर वोट बैंक की राजनीति कर रही कांग्रेस को जवाब है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने फर्जी केस बनाया। इस मामले में जिन्हें आरोपी बनाया गया सभी बाहर हैं। उन्होंने सुरक्षा के साथ समझौता किया है।

हांलाकि. इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने प्रत्रकारों समक्ष अपनी बात रखते हुए कहा कि, मई को ही ईमानदार सरकार की शुरुआत हो गई थी। 2014 लोकसभा चुनाव का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि 16 मई को नतीजे आए थे, 17 मई को मोदी के आते ही भ्रष्टाचारियों को इसकी कीमत चुकानी पड़ी। सत्ता मार्किट में तब कांग्रेस का रेट 18 रहा था और बीजेपी का 75 था। इन सभी को नुकसान हुआ। जुआरियों को पहला झटका लगा।

पीएम ने कहा कि, मैं मानता हूं कि कुछ बातें हम गर्व के साथ दुनिया से कह सकते हैं। ये दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है, ये लोकत्रंत की ताकत दुनिया के सामने ले जाना हम सबका दायित्व है। हमें विश्व को प्रभावित करना चाहिए कि हमारा लोकतंत्र कितनी विविधताओं से भरा है।