BJP Latest mukhya khabar national Politics Politics

मोदी को प्रधानमंत्री पद से दूर करने के लिए विपक्ष बना रहा है ये रणनीति

प्रधानमंत्री

लोकसभा चुनाव अब अपने अंतिम चरण में हैं। जिसके चलते विपक्ष अभी से प्रधानमंत्री के पद के लिए नाम तलाशने में जुट गया है। जानकारी के अनुसार विपक्ष प्रधानमंत्री मोदी को हटाने के लिए पीएम पद के लिए अपनी पार्टी से किसी भी नाम को आगे न करने का मन बना रहा है।

कांग्रेस नेता गुलामनबी आज़ाद ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि, ‘लोकसभा चुनाव के परिणाम घोषित होने से पहले शीर्ष पद के लिए उम्मीदवार पर आम सहमति का स्वागत किया जाएगा, लेकिन प्रधानमंत्री की कुर्सी की पेशकश नहीं करने पर पार्टी इसे मुद्दा नहीं बनाएगी।’

इतना ही नहीं दावा तो ये भी कहा जा रहा है कि, चुनावों के परिणाम से पहले संयुक्त विपक्ष, प्रधानमंत्री पद के चेहरे का ऐलान कर देगा। आजाद ने कहा कि अगर गठबंधन में प्रधानमंत्री का पद कांग्रेस को नहीं भी मिलती तो भी यह कोई मुद्दा नहीं होगा।

पटना में पत्रकारों से बात करते हुए आजाद ने पीएम पद के लिए राहुल की उम्मीदवारी पर कहा, ‘अगर हमें इस पद के लिए आमंत्रित नहीं किया जाता तो हम इसे मुद्दा नहीं बनाएंगे।’ आजाद ने कहा कि 2014 में केंद्र में सत्ता में आने के बाद बीजेपी का ‘पर्दाफाश’ हुआ है क्योंकि इसने समाज में ‘घृणा फैलाने और बंटवारा करने’ की नीति पर काम किया है।

गौर हो कि, 19 मई को लोकसभा के अंतिम चरण के लिए चुनाव होना है। जिसका नतीजा 23 मई को आयेगा। जिसके चलते एक बार पहले भी संपूर्ण विपक्ष ने राष्ट्रपति से गुहार लगाई थी कि, वो सरकार बनाने के लिए विपक्ष को पहले आमंत्रित करें।

दरअसल, विपक्ष का आरोप है कि, मोदी सरकार में सामज में नफ़रत अधिक बढ़ी है। साथ ही देश आर्थिक मामलों में भी पिछड़ गया है।

BJP कार्यकर्ता ने कांग्रेस के इस नेता के सामने क्यों लगाये ‘भारत माता की जय’ के नारे

लोकसभा चुनाव 2019: अनुच्छेद 324 के तहत EC का बड़ा फैसला, आज रात 10 बजे के बाद थम जायेगा चुनाव प्रचार